Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023: डेयरी उद्यमिता विकास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023: भारत में पशुपालन को बढ़ावा देने और डेयरी किसानों की मदद करने के लिए, सरकार ने कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। इस को ध्यान रखते हुए डेयरी उद्यमिता विकास योजना शुरूआत किया है इस योजना के माध्यम से डेयरी फार्मिंग को व्यवस्थित करने के लिए देश के ग्रामीण क्षेत्रो के नागरिकों को सरकार द्वारा कम ब्याज दर पर लोन प्रदान किया जाएगा।

इस योजना के तहत दिया जाने वाला लोन बैंक द्वारा प्रदान किया जाएगा। इस डेयरी फार्मिंग के माध्यम से कई ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगार युवकों को रोजगार मिलेगा। अगर आप Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023 के लिए आवेदन करना चाहते हैं इस पेंशन की पात्रता, आवेदन प्रक्रिया, आवश्यक दस्तावेज़, लाभ कैसे मिलेगा जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023

पशुपालन कृषि से संबंधित पशुओं का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है जो दूध, मांस, अंडे, फाइबर आदि उत्पादन किया जाता है। केंद्र सरकार द्वारा डेयरी उद्यमिता विकास योजना की शुरूआत किया गया है। इस योजना के माध्यम से पशुपालको को गाय और भैंस खरीदने तथा उन्हें पालने के लिए सरकार द्वारा सब्सिडी में लोन प्रदान किया जायेगा राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक के तहत से शुरू की गई डेयरी उद्यमिता विकास योजना के लिए केंद्र सरकार के विकास मंत्रालय द्वारा अलग से बजट निर्धारित किया गया है।

भारत में अधिकतर लोग ग्रामीण क्षेत्र में रहते है, जिस वजह से उन्हें किसी न किसी तरह के रोजगार की आवश्यकता होती है। इस योजना के तहत पशुपालन करने वाले व्यक्ति को कुल प्रोजेक्ट की लागत का 33.33 फीसदी अनुदान मिलता है. योजना के लिए राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक द्वारा लोन में सब्सिडी दी जाती है। जिससे युवाओं को तो इससे फायदा होगा ही, किसानों की भी इससे आय बढ़ेगी।

डेयरी उद्यमिता विकास योजना का मुख्य उद्देश्य

जैसा कि आप जानते हैं कि देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले बहुत से लोग डेयरी फार्मिंग के माध्यम से अपनी आजीविका कमाते हैं। डेयरी फार्मिंग बहुत असंगठित है, जिससे लोगों को अधिक लाभ नहीं मिल पाता है। इस डेयरी उद्यमिता विकास योजना के तहत डेयरी उद्योग को संगठित कर सुचारु रूप से चलाया जायेगा।

इस योजना के माध्यम से स्वरोजगार उत्पन्न करना और डेयरी क्षेत्र के लिए सुविधाएं प्रदान करना। इस Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023 का मुख्य उद्देश्य लोगों को बिना ब्याज के लोन देना है ताकि वे अपना व्यवसाय आसानी से चला सकें जिसका मुख्य उद्देश्य दूध उत्पादन को बढ़ावा देना है ताकि हमारे देश से बेरोजगारी को खत्म किया जा सके। सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए बड़े पैमाने पर काम कर रही है।

डेयरी उद्यमिता विकास योजना का लाभ किसको मिल सकता है?

• किसान
• व्यक्तिगत उद्यमी
• असंगठित और संगठित क्षेत्र के समूह
• संगठित क्षेत्र का स्वयं सहायता समूह
• डेयरी सहकारी समितियां
• दुग्ध संघ
• पंचायती राज संस्थाएं

डेयरी उद्यमिता विकास योजना के लाभ व विशेषताए

• डेयरी उद्यमिता विकास योजना के माध्यम से डेयरी फार्मिंग शुरू करने के लिए भी सब्सिडी प्रदान की जाती है।

• इस योजना के माध्यम से आप दुग्ध उत्पाद की प्रोसेसिंग के लिए उपकरण खरीद सकते हैं।

• यदि आप इस तरह की मशीन खरीदते हैं और उसकी कीमत 13.20 लाख रुपये आती है तो आपको इस पर 25 फीसदी (3.30 लाख रुपये) की कैपिटल सब्सिडी मिल सकती है।

• यदि आप एससी/एसटी कैटेगरी से आते हैं तो आपको इसके लिए 4.40 लाख रुपये की सब्सिडी मिल सकती है।

• इस योजना में, लोन राशि बैंक द्वारा अनुमोदित की जाएगी और 25% नागरिको द्वारा जाएगी। इस योजना से लाभ लेने के लिए रुचि रखने वाले नागरिक सीधे बैंक से संपर्क करेंगे ।

• अगर आप पांच गायों के द्वारा डेयरी शुरू करना चाहते हैं तो, आपको उनकी लागत का सबूत देना होगा।जिसके तहत सरकार 50% सब्सिडी देगी। किसानों को 50% अलग-अलग किस्तों में बैंक को भुगतान करना होगा।

डेयरी उद्यमिता विकास योजना के लिए निर्धारित पात्रता

• इस योजना के लाभार्थी परिवारों को छोड़कर किसी अन्य संस्था को इस योजना का केवल एक बार लाभ मिलेगा।

• अगर परिवार के सदस्य अलग – अलग इलाके में डेरी का व्यापार शुरू कर रहे है तो हर सदस्य को अलग अलग रूप से इस योजना का लाभ मिलेगा ।

• अगर एक ही परिवार के 1 से अधिक लोग डेरी का व्यापार शुरू करना चाहते है तो उन दोनों के व्यापार स्थान के बीच कम से कम 500 मीटर की दूरी होनी चाहिए ।

• आवेदन कर्ता के पास कम से कम 2 दुधारू पशु होने चाहिए ।

• इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर्ता कम से कम 10 दुधारू पशु अपने पास रख सकते है ।

• जनरल कैटेगरी के लोगों के मुकाबले एससी एसटी वर्ग के लोगों को अधिक सब्सिडी दी जाएगी ।

डेयरी उद्यमिता विकास योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

• जायदाद के कागज
• पहचान पत्र
• एड्रेस पूफ्र
• सिविल रिपोर्ट
• जाति प्रमाण पत्र
• इनकम टैक्स रिटर्न
• प्रोजेक्ट रिपोर्ट

Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

• सबसे पहले आवेदक को नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर और रूरल डेवलपमेंट नाबार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

• इसके बाद आपके सामने होम पेज में सूचना केंद्र का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है।

• इसके बाद आपको अपने योजना के आधार पर डाउनलोड पीडीऍफ़ के विकल्प पर क्लिक करना है।

• अब आपके सामने योजना का आवेदन फॉर्म आ जाएगा आपको इस फॉर्म को भरना और जमा करना होगा।

Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023 के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

• अगर आप डेयरी उद्यमिता विकास योजना के माध्यम से लोन प्राप्त करना चाहते है, तो सबसे पहले आपको नजदीकी बैंक की शाखा में जाना होगा

• इसके बाद आपको शाखा प्रबंधक के पास जाकर डेयरी उद्यमिता विकास योजना के माध्यम से लोन प्रदान करने के लिए आवेदन की जानकारी लेनी होगी।

• आपको बैंक द्वारा एक फॉर्म दिया जायेगा फिर आप इस फॉर्म को आपको ठीक तरह से भरना होगा।

• फॉर्म को सही तरह से भरने के बाद जरूरी दस्तावेजों को इस फॉर्म के साथ लगा दे

• इसके बाद इस फॉर्म को बैंक में जमा कर दे जहाँ से आप लोन प्राप्त करना चाहते है।

• आपके लोन की स्वीकृति होने के पश्चात् आपको सब्सिडी का लाभ उठाने के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियों को बताया जाएगा।

और पढ़े:- 

1 thought on “Dairy Udyamita Vikas Yojana 2023: डेयरी उद्यमिता विकास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?”

Leave a comment